Breaking News
badrinath ji

भगवान बदरीनाथ मंदिर की साज सज्जा शुरू

badrinath ji

चमोली (संवाददाता)। भगवान बदरीनारायण के कपाट 10 मई को प्रात: खुलेंगे। कपाट खुलने से पहले ही यहाँ बदरीनाथ में पहुंच कर बदरीनाथ केदारनाथ मंदिर समिति के कर्मचारी, तकनीकी विशेषज्ञ मंदिर की साज सज्जा में लग गये हैं। बदरीनाथ में पिछले दो दिनों से बर्फबारी और बारिश हो रही है। कड़ाके की ठंड पड़ रही हैं। इसके बाबजूद भी मंदिर समिति के कर्मचारी लगातार मंदिर, विशाल सिंहद्वार को सजाने में लगे हैं। रंग-रोगन किया जा रहा है। शीतकाल में बर्फ से टूटी मंदिर समिति की सम्पदा को ठीक किया जा रहा है। धर्मशाला, अतिथि गृहों को ठीक किया जा रहा है। मंदिर के आस-पास और दर्शन के लिये जो शेड बने हैं। उसमें पड़ी बर्फ हटायी जा रही है। कपाट खुलने से पहले ही यहां व्यवस्थाओं को चाक-चौबंद करने के लिये बदरीनाथ केदारनाथ मंदिर समिति के मुख्य कार्याधिकारी बीडी सिंह पहले ही बर्फ के बीच चल कर बदरीनाथ पहुंचे। मंदिर समिति के कर्मचारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दे चुके हैं। जानकारी देते हुए बदरीनाथ केदारनाथ मंदिर समिति के मीडिया प्रभारी डा़ हरीश गौड ने बताया कि बदरीनाथ केदार नाथ मंदिर समिति के अध्यक्ष मोहन प्रसाद थपलियाल ने भी बदरीनाथ में कपाट खुलने से पहले बदरीनाथ पहुंच कर आवश्यक दिशा-निर्देश दिये। बदरीनाथ के दर्शन के लिये श्रद्धालुओं का आना अभी से शुरू हो गया है। अभी हनुमान चट्टी से आगे बढऩे की अनुमति नहीं है। इसलिए यात्री बदरीनाथ से 15 किमी पहले हनुमान चट्टी में ही भगवान हनुमान के दर्शन कर जोशीमठ लौट रहे हैं। 10 मई को बदरीनाथ के कपाट खुलने की इंतजारी कर रहे हैं। दिल्ली, पंजाब, तमिलनाडु, पांडुचेरी, उड़ीसा से यात्री आये हैं। बदरीनाथ में 25 अप्रैल को थाना जब फिर से पहुंचेगा। उसके बाद ही अन्य लोगों को बदरीनाथ आने की अनुमति होती है। ऐसी सुरक्षा की दृष्टि से किया जाता है। पांडुकेश्वर, गोविंद घाट समेत यात्रा मार्ग के अन्य पड़ावों की दुकानें, होटल सजने लगे हैं।

Check Also

सीएम धामी ने प्रदेश वासियों को राज्य स्थापना दिवस के अवसर पर दी बधाई एवं शुभकामनाएं

देहरादून (सू0 वि0)। राज्य स्थापना दिवस के अवसर पर मुख्यमंत्री ने प्रदेश वासियों को दी …

Leave a Reply

Your email address will not be published.