Breaking News
hjkn

आर्थिक सहायता की मांग को लेकर पिता अपनी बेटी के साथ जनता दरवार पहुॅचे

hjkn

चमोली 05 अगस्त,2019 (सू0वि0) सोमवार को आर्थिक सहायता की मांग को लेकर ब्यारा निवासी देवेन्द्र सिंह अपने बेटी तनुजा के साथ जनता दरवार पहुॅचे। जिलाधिकारी को बताया कि क्षतिग्रस्त विद्युत लाईन से वर्ष 2014 में उनकी बेटी के दोनों हाथ जल गए थे। बेटी के ईलाज के बाद अभी तक विद्युत विभाग से उन्हें किसी प्रकार की आर्थिक सहायता नही दी गई है। मामले की संवेदनशीलता को देखते हुए जिलाधिकारी ने पीडिता के पिता को जनता दरवार के बाद मिलने को कहा। जनता दरवार के बाद पीडिता के पिता ने अपनी बेटी के साथ जिलाधिकारी से मुलाकात की और अपनी आप बीती सुनाई। कहा कि विद्युत की क्षतिग्रस्त लाईन से उनके बेटी 70 प्रतिशत जल गई थी। बेटी के ईलाज में बहुत खर्चा कर चुके है और अब उनकी आर्थिक स्थिति ठीक नही चल रही है। पीडिता की स्थिति को देखते हुए जिलाधिकारी ने अपने ओर से नगद 5 हजार रुपये की आर्थिक सहायता दी। वही उन्होंने मुख्य चिकित्सा अधिकारी को अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) से पीडिता के हाथों की सर्जरी हेतु तत्काल आवश्यक कार्यवाही करने तथा पीडित परिवार का आयुष्मान कार्ड बनाने को कहा। वही विद्युत विभाग के अधिशासी अभियंता को पीडिता को आर्थिक सहायता दिलाने हेतु दो दिनों के भीतर कार्यवाही सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। समाज कल्याण अधिकारी को दिब्यांग तनुजा की पेंशन लगाने हेतु तत्काल कार्यवाही करने को कहा।

njh

उत्तराखंड चमोली से केशर सिंह नेगी की रिपोर्ट
सोमवार को आर्थिक सहायता की मांग को लेकर ब्यारा निवासी देवेन्द्र सिंह अपने बेटी तनुजा के साथ जनता दरवार पहुॅचे। जिलाधिकारी को बताया गकि क्षतिग्रस्त विद्युत लाईन से वर्ष 2014 में उनकी बेटी के दोनों हाथ जल गए थे। बेटी के ईलाज के बाद अभी तक विद्युत विभाग से उन्हें किसी प्रकार की आर्थिक सहायता नही दी गई है। मामले की संवेदनशीलता को देखते हुए जिलाधिकारी ने पीडिता के पिता को जनता दरवार के बाद मिलने को कहा।

जनता दरवार के बाद पीडिता के पिता ने अपनी बेटी के साथ जिलाधिकारी से मुलाकात की और अपनी आप बीती सुनाई। कहा कि विद्युत की क्षतिग्रस्त लाईन से उनके बेटी 70 प्रतिशत जल गई थी। बेटी के ईलाज में बहुत खर्चा कर चुके है और अब उनकी आर्थिक स्थिति ठीक नही चल रही है।

पीडिता की स्थिति को देखते हुए जिलाधिकारी ने अपने ओर से नगद 5 हजार रुपये की आर्थिक सहायता दी। वही उन्होंने मुख्य चिकित्सा अधिकारी को अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) से पीडिता के हाथों की सर्जरी हेतु तत्काल आवश्यक कार्यवाही करने तथा पीडित परिवार का आयुष्मान कार्ड बनाने को कहा। वही विद्युत विभाग के अधिशासी अभियंता को पीडिता को आर्थिक सहायता दिलाने हेतु दो दिनों के भीतर कार्यवाही सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। समाज कल्याण अधिकारी को दिब्यांग तनुजा की पेंशन लगाने हेतु तत्काल कार्यवाही करने को कहा।

Check Also

मुख्य सचिव ने को सचिवालय में चारधाम यात्रा की तैयारियों की समीक्षा की

देहरादून (सू0वि0)। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के विजन के अनुरूप तथा निर्देशो के क्रम में …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *