Breaking News
ssp

लोगों को डेढ़ गुना पैसा देने की स्कीम ने पहुँचाया जेल

ssp

दीप्ति नेगी
देहरादून-: देहरादून में लोगों से पैसों के नाम पर ठगी की शिकायतें लगातार बढ़ती जा रही है।हाल ही में पुलिस देहरादून में कई किटी का पैसा लेकर भागने के मामलों में पुलिस किटी का पैसा लेकर भागने वाले अभियुक्तों पर पुलिस अपनी नकेल कसने के साथ ही लोगों को अपना पैसा किसी भी स्कीम के चक्कर में न लगाने की हिदायत देती रही है पर कहीं न कहीं लोग धोखेबाज़ नई नई स्कीम के जरिये लोगों को अपनी गिरफ्त में ले रहे है। ताज़ा मामला थाना रायवाला का है जहां थाना रायवाला पुलिस टीम ने पुलिस अधीक्षक( ग्रामीण) व क्षेत्राधिकारी ऋषिकेश के पर्यवेक्षण में ऋषिकेश क्षेत्र के हरिपुर कलां चौकी क्षेत्र स्थित उमा विहार कॉलोनी में एक फर्जी कंपनी के नाम से लोगों का पैसा लगाने पर डेढ़ गुना करने की स्कीम के तहत ठगी कर रहे थे।पुलिस ने मौका-के-वारदात से 7 अभियुक्तों को गिरफ्तार किया है व उनके पास से छियालीस लाख पंद्रह सौ (46,01,500/-) नगद रुपये,जिस स्कीम के तहत बनाये जाने वाले कार्ड,रजिस्टर भी बरामद किये है। जनपद में ठगी और धोखाधड़ी की लगातार प्राप्त हो रही शिकायतों के संदर्भ में वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक द्वारा सभी अधिकारियों को निर्देशित किया गया था कि जनपद में चल रहे ऐंसे संगठित गिरोह, जो बहुत कम समय में धनराशि को कई गुना बढ़ाने का लालच देकर लोगों के साथ ठगी कर रहे हैं, के संदर्भ में उनके फरार होने से पहले प्रभावी कार्यवाही करना सुनिश्चित करें जिसपर तुरंत कार्यवाही करते हुए पुलिस अधीक्षक ग्रामीण द्वारा देहात क्षेत्र में ऐंसे गिरोह पर दृष्टि रखने हेतु क्षेत्राधिकारी ऋषिकेश के पर्यवेक्षण में थानाध्यक्ष रायवाला के नेतृत्व में एक टीम का गठन किया गया। पुलिस टीम द्वारा मुखबिरी के आधार पर व कड़ी खोज बीन के बाद कल हरिपुरकलां चौकी क्षेत्र में स्थित उमा विहार कालोनी में कुछ व्यक्तियों द्वारा एयरवे इन्टरप्राइजेज नाम से एक कम्पनी खोली गयी है, जिसकी आड़ में इनके द्वारा रुपये जमा करके पन्द्रह दिन के भीतर प्रतिदिन किस्त के रुप मे डेढ गुना रुपया वापस किये जाने का लालच देकर लोगों को गुमराह किया जा रहा है, जिससे लालच में पड़कर अधिक लोगों इनसे जुड़ रहे है। और करोड़ रुपये जमा होने के बाद यह भागने की फिराक में है।सूचना पर थानाध्यक्ष अमरजीत सिंह रावत टीम के कुछ सदस्यों के साथ प्राइवेट वाहनों से मौका-के-वारदात पर पहुँचे तथा पूर्व चौकी सप्तऋषि के खाली भवन के पास पहुँचने के बाद थानाध्यक्ष रायवाला द्वारा का0 पंकज तोमर को 2000/- रुपये देकर खबर की पुष्टि करने को कहा जिसके बाद कांस्टेबल पंकज द्वारा कम्पनी में जय गया तो वहां कार्यरत एक व्यक्ति जोगिन्दर द्वारा पंकज से 2000/- रुपये जमा करके उसका कार्ड बना दिया, जिससे उक्त सूचना की सही पुष्टि हो गयी। कांस्टेबल पंकज तोमर ने बताया कि कंपनी के भीतर 7 व्यक्ति द्वारा शिशु योजना उत्तराखण्ड नाम स्कीम बताई जा रही है जिसमे वह लोगों का कार्ड बनाकर उनसे 10,000/- रुपये लेते है जिसके बदले 15 दिनो में 15,000/- रुपये देने का लालच देते है।इस सूचना के आधार पर थानाध्यक्ष रायवाला व टीम द्वारा तुरंत कार्यवाही करते हुए एयरवे इन्टरप्राइजेज मे छापा मारा गया जहाँ से पुलिस द्वारा मौके से जोगिन्दर, नरेश शर्मा, चन्दन कुमार अरोडा,तिलकराज,अजमेर सिंह, अरुण राणा व संजय कुमार सिंह को गिरफ्तार किया गया।पुलिस ने अभियुक्तों के कार्यालय के पीछे स्थित कमरे की अलमारी से नगद 46,01,500/ रुपये भी बरामद किये। पुलिस ने अभियुक्तों के पास से कार्ड ,रजिस्टर एंव डायरी ATM कार्ड , चैक बुक भी ज़ब्त कर लिए है। पकड़े गए सातों ठगों का मास्टरमाइंड जोगिंदर पूर्व में दिल्ली पुलिस में कार्यरत था, वहां से बर्खास्तगी के बाद अपने कुछ जानने वालों के साथ मिलकर लोगों से पैसे ठगने का काम करने लगा। पुलिस ने सभी अभियुक्तों के खिलाफ धोखाधड़ी का मुकदमा दर्ज कर लिया है।पुलिस अभियुक्तों से गिरोह में शामिल अन्य लोगों के बारे में पूछताछ कर रही है। इनके द्वारा ठगे गए पैसों के संबंध में फिलहाल पुलिस पे किसी के द्वारा शिकायत दर्ज नही की गयी है।

ssp doon 1

Check Also

मुख्य सचिव ने को सचिवालय में चारधाम यात्रा की तैयारियों की समीक्षा की

देहरादून (सू0वि0)। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के विजन के अनुरूप तथा निर्देशो के क्रम में …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *