Breaking News
52509416

रेप पीडि़ता का यौन शोषण

पुलिसकर्मियों पर जांच के नाम पर यौन शोषण करने का आरोप लगाया

52509416      

हरियाणा की एक नाबालिग रेप पीडि़ता ने पुरुष पुलिसकर्मियों पर जांच के नाम पर यौन शोषण करने का आरोप लगाया है। उसने पंजाब और हरियाणा हाईकोर्ट में दायर अपनी याचिका में कहा है कि कैथल में पुलिसवालों ने जांच के नाम पर जबरन उसके कपड़े उतरवाए। 14 वर्षीय पीडि़ता ने अपनी याचिका में आरोप लगाया है कि पुलिसवालों ने उसे कपड़े उतारने को कहा ताकि वे यह जांच कर पाएं कि रेप कहां हुआ है। इतना ही नहीं, एक पुलिसवाले ने तो उसकी जांघ भी छूई।  एक अंग्रेजी समाचार पत्र में छपी खबर के अनुसार, पीडि़ता की याचिका पर सुनवाई करते हुए जस्टिस रेखा मित्तल ने हरियाणा के डीजीपी को नोटिस जारी किया है, जिसका जबाव उन्हें 5 जुलाई को होने वाली सुनवाई तक देनी है।  गौरतलब है कि पीडि़ता ने पिछले साल 23 नवंबर को रेप केस दर्ज कराया था, जिसमें उसने आरोपी को पहचानने की बात कही थी। उसके बाद उसका बयान कैथल में प्रथम श्रेणी के न्यायिक मजिस्ट्रेट के सामने रेकॉर्ड हुआ। अपने साथ हुई दरिंदगी बयां करने के साथ ही उसने पुलिस कर्मियों की करतूतों को भी बयान किया। अभी तक आरोपी पुलिसकर्मियों के खिलाफ  एफ आईआर नहीं हुई है।  याचिका के अनुसार, पीडि़ता का कहना है कि 23 नवंबर की रात पुलिसकर्मी उसे आरोपी के साथ ही अपराध जांच एजेंसी कार्यालय ले गए। उन लोगों ने उसके साथ जो किया वह रेप से भी बढ़कर था। अपने पिता की मदद से उसने हाईकोर्ट में याचिका दायर की है। याचिका में कहा गया है कि एक पुलिसवाले ने उसकी शर्ट का बटन खोलते हुए कहा कि बताओ रेप कैसे हुआ। और उसके बाद पुलिसवाले ने उसकी जांघ पर हाथ रख दिया। दूसरे पुलिस वाले ने धमकी दी कि इस बारे में किसी से कुछ मत कहना, वर्ना मेडिकल जांच नहीं होगा।  पीडि़ता ने याचिका में आरोपी पुलिस वालों के खिलाफ केस दर्ज करने की अपील की है। पीडि़ता के वकील ने कोर्ट को बताया कि पीडि़ता का परिवार डीजीपी के पास यह शिकायत लेकर गया था लेकिन आरोपी पुलिसवालों के खिलाफ केस दर्ज नहीं हुआ।

Check Also

सीएम धामी ने प्रदेश वासियों को राज्य स्थापना दिवस के अवसर पर दी बधाई एवं शुभकामनाएं

देहरादून (सू0 वि0)। राज्य स्थापना दिवस के अवसर पर मुख्यमंत्री ने प्रदेश वासियों को दी …

Leave a Reply

Your email address will not be published.