Breaking News
mohan vs rahul

राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ (आर एस एस)

mohan vs rahul

आर एस एस
देश के वजूद से लिपटी
जानलेवा अमर बेल नहीं,
यह संगठन हमवतन
प्राणदायी अमृत बेल है
आर एस एस विरोधियो।
भारत माता के पावन चरणों में
लोट-पोट होने
मर-मिटने के लिये पनपती-फैलती जा रही है,
यह प्राणदायी अमृत बेल
भारत के वजूद का हिस्सा है
आर एस एस विरोधियो।
अगर यह प्राणदायी अमृत बेल न होती
तो तुम लोग मौलवियो
कई पाकिस्तान यानी जिहादिस्तान
बना चुके होते भारत में अब तक
आर एस एस विरोधियो।
आर एस एस
वह फलदायी गेंद है
जिसे तुम जितना नोचोगे
जितना दबा-दबा कर पटकोगे
वह उतना ही बुलंदियों की ओर उछलेगी
आर एस एस विरोधियो
ओ विकृत अनाड़ियो।
इस हकीकत की प्रतिध्वनियाँ तुम्हे
कर्नाटक के चुनाव के नतीजों में
सुनाई पड़ जाएंगी औंरगजेबी मौलवियो।

                VIRENDRA DEV GAUR

                  CHIEF-EDITOR

Check Also

सीएम धामी ने प्रदेश वासियों को राज्य स्थापना दिवस के अवसर पर दी बधाई एवं शुभकामनाएं

देहरादून (सू0 वि0)। राज्य स्थापना दिवस के अवसर पर मुख्यमंत्री ने प्रदेश वासियों को दी …

Leave a Reply

Your email address will not be published.