Breaking News
ramdev

रामदेव ने खोली पतंजलि की ऑनलाइन दुकान

ramdev

नई दिल्ली । पतंजलि प्रॉडक्ट्स अब सभी बड़े ई-कॉमर्स प्लैटफॉर्म्स पर भी उपलब्ध होंगे। लोग ऐमजॉन, फ्लिपकार्ट, पेटीएम मॉल, ग्रोफर्स और बिगबास्केट समेत अन्य बड़े ऑनलाइन पोर्टल से पतंजलि के सारे उत्पाद ऑर्डर कर सकते हैं। इन कंपनियों के अलावा पतंजलि शॉपक्लूज एवं नेटमेड्स के मंचों से भी अपने उत्पाद बेचेगी। आज आयोजित एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में इन ई-कॉमर्स कंपनियों से हुई डील की जानकारी दी गई। कार्यक्रम में रामदेव और पतंजलि के एमडी और सीईओ आचार्य बालकृष्ण के अलावा साझेदार ई-कॉमर्स कंपनियों के प्रतिनिधि भी मौजूद थे। इस मौके पर एचडीएफसी की ओर से स्मिता भगत ने बताया कि ऑनलाइन प्लैटफॉर्म्स से पतंजलि प्रॉडक्ट्स खरदीनेवालों को 5 गुना रिवॉर्ड पॉइंट्स के साथ-साथ कैशबैक दिया जाएगा। ऑनलाइन सेल के लिए पतंजलि ने अपनी वेबसाइट पतंजलिआयुर्वेदा.नेट भी शुरू की है।  इससे पहले रामदेव ने बताया कि उन्होंने आनेवाले 50 सालों के लिए मास्टर प्लान तैयार कर रखा है जिसमें एजुकेशन, हेल्थ, नैचरोपैथी, गांव, गौसेवा आदि पर काम होना है। योगगुरु ने बताया कि पतंजलि को शेयर बाजार में लिस्ट करवाने का कोई इरादा नहीं है। बाबा रामदेव ने कहा, वह पतंजलि की मुंबई (शेयर मार्केट) में लिस्टिंग नहीं करवाएंगे, बल्कि इसे लोगों के दिलों में लिस्ट करेंगे।  उन्होंने कहा कि ऑनलाइन के माध्यम से सालाना 1 से 2 हजार करोड़ रुपये के पतंजलि उत्पाद बेचने का लक्ष्य रखा गया है। अपनी प्रॉडक्शन कपैसिटी के बारे में रामदेव ने बताया कि यह फिलहाल 30,000 करोड़ रुपये है जिसे इसी साल तक बढ़ाकर 50,000 करोड़ रुपये करना है। रामदेव ने कहा कि अगले दो सालों में 1 लाख करोड़ रुपये की प्रॉडक्शन कपैसिटी बनाने की योजना है। रामदेव ने कहा, इतनी बड़ी प्रॉडक्शन कपैसिटी के बारे में कोई एफएमसीजी कंपनी सोच भी नहीं सकती। उन्होंने बताया कि 11,000 से ज्यादा ब्रैंड्स पर रिसर्च करनेवाली एक एजेंसी ने पिछले दिनों पतंजलि को नंबर वन का दर्जा दिया। योगगुरु ने कहा, यह हमारे लिए गौरव की बात है।  योगगुरु ने यह भी बताया कि यूपी के हरिद्वार और नोएडा,असम के तेजपुर, महाराष्ट्र के नागपुर आदि जगहों पर पतंजलि की यूनिट लगाने पर काम हो रहा है। रामदेव ने आगे कहा कि 25 वर्ष पहले शुरू हुई पतंजलि अगले दो-तीन वर्षों में 50 हजार से 1 लाख करोड़ का मार्केट बनाना चाहती है जिसमें से 1 लाख करोड़ रुपये चैरिटी में लगाए जाएंगे। गौरतलब है कि वित्त वर्ष 2016-17 में पतंजलि का टर्नओवर 10,500 करोड़ रुपये से ज्यादा रहा। इस वित्त वर्ष में पतंजलि का इसे दोगुना करना है।  कार्यक्रम में पेटीएम से संस्थापक विजय शेखर शर्मा, पेटीएम के सीईओ अमित सिन्हा, बिग बास्केट के संस्थापक हरि मेनन, फ्लिपकार्ट के सीईओ कल्याणजी कृष्णमूर्ति, ग्रोफर्स के संस्थापक सौरभ कुमार, ऐमजॉन इंडिया के वाइस प्रेजिडेंट मनीष तिवारी, नेटमेड्स के फाउंडर प्रदीप डाढ़ा, शॉपक्लूज के सीनियर वाइस प्रेजिडेंट विशाल शर्मा शामिल थे।

Check Also

1

1

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *