Breaking News
mehbooba

महबूबा महबूबा हू–हू-हू—कश्मीर में—-

mehbooba

महबूबा महबूबा हू–हू—हू—उ—
गुलशन में गुल खिलते हैं
जब सेहरा में मिलते हैं
मैं और तू—उ—उ—–।
महबूबा महबूबा हू—हू—-उू—-
कश्मीर में जिहादी जमकर
जम्हूरियत की हत्या करते हैं
जब राजनीति में भाजपा और तू मिलते हैं
हू–हू–हू——।
महबूबा महबूबा हू—हू—हू—
कश्मीर में जिहादियों की
शामत आ जाती है
जब भाजपा और तू कश्मीर में बिछड़ते हैं
हू–हू—हू—-।
महबूबा महबूबा—हू-हू–हू—
कांग्रेसी गुलाम नबी आजाद और सैफुद्दीन सोज
हुरियत कांफ्रेस और नेशनल कांफ्रेस
महबूबा तुम और तुम्हारे जिहादिस्तानी फैंड्स
सब मिलकर मातमी गाना गाओ
जिहादियों की लाशें गिनते जाओ
शोले पिक्चर की धूम मचाओ
महबूबा महबूबा हू-हू-हू—-
कश्मीर में भारत के जानी दुश्मनों हू-हू–हू
नाच-नाच के गाओ हू–हू–हू–
महबूबा महबूबा—हू-हू-हू
इस्लामी जिहादियो, जिहादिस्तान की औलादो बाज आओ
वर्ना जहन्नुम का टिकट कटाओ हू-हू-हू–।

                                  Virendra Dev Gaur

                                 Chief Editor (NWN)

Check Also

1

1

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *