Breaking News
uttarakhand chardham yatra

चारधाम यात्रा की व्यवस्थाओं में पुलिस की कमी से हो सकती है परेशानी

uttarakhand chardham yatra

देहरादून  (संवाददाता)। विश्व प्रसिद्ध चारधाम यात्रा अगले महीने से शुरू होने वाली है। हर बार की तरह इस साल भी यात्रा को सफल बनाना पुलिस के लिए एक बड़ी चुनौती होगी। लाखों श्रद्धालुओं की सुरक्षा के साथ ही दैवीय आपदा जैसी चुनौती पुलिस के सामने है। वहीं चुनाव की वजह से फोर्स की कमी भी पुलिस के लिए सिर दर्द बन सकती है। इन चुनौतियों को लेकर उत्तराखंड के डीजी लॉ एंड ऑर्डर का कहना है कि पूर्व की भांति इस बार भी तैयारी कर ली गई है। उन्होंने बताया कि चुनाव का यात्रा पर कोई असर नहीं पड़ेगा सभी इलाकों में प्रयाप्त मात्रा में पुलिस फोर्स तैनात की जाएगी।जानकारी देते डीजी लॉ एंड ऑडर अशोक कुमारदरअसल, 7 मई को गंगोत्री और यमुनोत्री धाम के कपाट खुलेंगे। 9 मई को केदारनाथ और 10 मई को बदरीनाथ धाम के कपाट खोले जाएंगे। आचार संहिता की वजह से इस बार चारधाम यात्रा के लिए सरकार मार्ग दुरुस्त करने और अन्य कोई विकास के काम नहीं कर पा रही है। वहीं पुलिस बल के चुनाव ड्यूटी में तैनात होने की वजह से चारधाम यात्रा की तैयारी प्रभावित होने की आशंका है। हालांकि, पुलिस द्वारा की जाने वाली तैयारी को लेकर डीजी लॉ एंड ऑर्डर अशोक कुमार का कहना है कि पुलिस की व्यवस्था चारधाम यात्रा के लिए हर बार की तरह ही होगी। चुनाव और काउंटिंग का किसी तरह का प्रभाव यात्रा पर नहीं पडऩे दिया जाएगा।बता दें कि पुलिस के लिए चारधाम यात्रा हर बार चुनौतीपूर्ण होती है। पुलिस को लाखों श्रद्धालुओं के जत्थे से लगने वाले जाम के झाम को निपटाना होता है। वहीं बरसाती मौसम में सड़क दुर्घटनाओं पर नियंत्रण पाना भी पुलिस की ही जिम्मेदारी रहती है। इन सभी व्यवस्था के लिए अतिरिक्त पुलिस बल और अन्य फोर्स की जरूरत पड़ती है, लेकिन लोकसभा चुनाव 2019 की वोटिंग काउंटिंग को लेकर पुलिस फोर्स चुनाव ड्यूटी में लगी है।

Check Also

सीएम धामी ने प्रदेश वासियों को राज्य स्थापना दिवस के अवसर पर दी बधाई एवं शुभकामनाएं

देहरादून (सू0 वि0)। राज्य स्थापना दिवस के अवसर पर मुख्यमंत्री ने प्रदेश वासियों को दी …

Leave a Reply

Your email address will not be published.