Breaking News
water

वसंत विहार क्षेत्र में पानी आपूर्ति बंद होने से मचा हाहाकार

water

देहरादून  (संवाददाता)। वसंत विहार बिजलीघर में आइसोलेटर के पैनल बदले जाने के बाद गुरुवार को कौलागढ़, जीएमएस रोड, मोहित विहार, वन विहार, बल्लुपुर आदि इलाके के सैकड़ों उपभोक्ताओं को बिजली संकट का सामना करना पड़ा। कौलागढ़ समेत कई इलाकों में न तो ट्यूबवेल चले न ही बिजली आई। पेयजल संकट से जूझ रहे उपभोक्ताओं ने जल संस्थान से गुहार लगाई तो बिजली संकट की असल वजह सामने आई। वसंत विहार बिजलीघर में 33 केवी लाइन में ट्रिपिंग के साथ ही फेस सिच्ेंस चेंज होने के बाद बड़े इलाके में बिजली की दिक्कत शुरू हो गई। सुबह बिजली की आंखमिचौली के बाद दिनभर परेशानी रही। कहीं बिजली रही, लेकिन रिवर्स करंट आने से न तो बिजली के उपकरण चले, न ही पानी के ट्यूबवेल। कौलागढ़ में शांति विहार, सीताराम, अंकित विहार, चूना भट्टा, प्राइमरी स्कूल मिनी ट्यूबवेल, बाजावाला और कैनाल रोड के ट्यूबवेल रिवर्स फेस की वजह से चले ही नहीं। लोगों की समझ ही नहीं आया कि जब बिजली है तो ट्यूबवेल क्यों नहीं चल रहे। सुबह भी ट्यूबवेल नहीं चलने से पानी नहीं आया, लेकिन सुबह लोगों ने ध्यान नहीं दिया। जब शाम को भी दिक्कत हुई तो लोग इधर-उधर अधिकारियों को फोन मिलाने लगे। तीन बजे जीएमएस रोड में भी बिजली गुल हो गई। यहां पर कई सारे काम्प्लेक्स में जनरेटर चलने लगे। देर रात को बिजली सप्लाई सामान्य हुई। कौलागढ़ निवासी घनश्याम ने बताया कि शाम को उन्होंने भी बिजलीघर और जल संस्थान में बिजली न आने की वजह से हो रही समस्या के बारे में बताया। वसंत विहार एसडीओ सुनील पोखरियाल ने बताया कि बिजलीघर में आइसोलेटर बदलने के समय फेस बदली हो गया। इसका पता नहीं चल पाया। चूंकि दिनभर कोई शिकायत भी नहीं आई। शाम को पेयजल सप्लाई के समय ट्यूबवेल नहीं चले तो उनके पास शिकायतें आनी शुरू हुई। 

Check Also

मुख्य सचिव ने को सचिवालय में चारधाम यात्रा की तैयारियों की समीक्षा की

देहरादून (सू0वि0)। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के विजन के अनुरूप तथा निर्देशो के क्रम में …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *