Breaking News
video clip

महिला का अश्लील वीडियो बनाकर ब्लैकमेल करने वाले पत्रकार गिरफ्तार

video clip

अर्जुन सिंह भंडारी
सहसपुर:- एक पत्रकार अकेले अपनी कलम के दम पर सच्चाई को खींचकर अँधेरे के गर्भ से बाहर निकाल सकता है पर उस समाज की नींव क्या होगी जिस समाज के पत्रकार की किताब ही जुर्म से भरी हो? कुछ ऐसा ही वाक्या आज सहसपुर थाना का सामने आया जहाँ एक न्यूज़ चैनल के चार पत्रकारों द्वारा एक महिला की अश्लील वीडियो बनाकर उसे व उसके परिजनों को ब्लैकमेल कर उनसे एक लाख रूपए फिरौती की माँग की थी जिसमे से पीड़ित परिवार द्वारा उन्हें 25 हज़ार रूपए नकद व 25 हज़ार का चेक दिया जा चुका था। पुलिस ने चारों पत्रकार समेत घटना में आरोपित एक अन्य अभियुक्त को गिरफ्तार कर लिया है। इनमे से एक पत्रकार हत्या के मुक़दमे में 3 साल पहले जेल भी जा चुका है। पुलिस के अनुसार युवती ने बताया कि वह विकासनगर में किराये के मकान पर रहती है व उसके पति की करीब तीन साल पहले मृत्यु हो चुकी है और वह खुद भी टी. बी. की मरीज है। कल शनिवार को वह सहसपुर थाना क्षेत्र में किराये पर रह रही अपनी छोटी बहन की चाऊमीन मोमो की दुकान पर अपने इलाज के लिए पैसे मांगने गयी थी जहाँ पहले से ही मौजूद

journalist arrested

शिवम(20) पुत्र राजेश कुमार निवासी टीचर कॉलोनी सहसपुर थाना सहसपुर ने उसकी मदद करने की बात कही पर बदले में उसके साथ शारीरिक संबंध बनाने को कहा।पैसे की जरुरत होने के चलते युवती ने शिवम की बात मान जिस पर युवती उस व्यक्ति के साथ दुकान के पीछे बने कमरे में चली गई जहाँ उस लड़के ने जब पीड़िता के कपड़े उतारे तो उसके बाद उसने अपने फ़ोन से किसी को मैसेज किया जिस पर वहाँ तुरंत चार अन्य लोग भी पहुँच गए। युवती के अनुसार उन सभी के गले में न्यूज़ चैनल की आईडी कार्ड थे और हाथ में एक माइक भी था। उनमे से एक ने अपने मोबाइल से युवती की नग्न अवस्था की वीडियो बनाई और उसे वह वीडियो बनाकर दिखाया और उस वीडियो को अपने एक अन्य साथी के मोबाइल पर व्हाट्सएप के द्वारा भेज दिया। उन पांचों अभियुक्तओं ने युवती को अपने वेलकम न्यूज़ के पत्रकार होने का परिचय दिया और कहा कि अगर वह उन्हें एक लाख रुपये नहीं देगी तो वह उस वीडियो अभी सभी को भेज देंगे और उसे पुलिस से पकड़वा देंगे। उनकी इस धमकी से युवती डर गयी और उसने यह बात अपनी बहन और जीजा को बताई जिससे वह भी डर गए। उन लोगों के लगातार पीड़ित पक्ष को ब्लैकमेल कर पैसे के लिए धमकाने के चलते युवती की बहन ने अपना मंगलसूत्र गिरवी रख दिया और कुछ पैसे उधार लिए और उन पांचों को 25 हजार रुपये नकद और 25 हजार रुपये का एक चेक दिया।  युवती द्वारा थाना सहसपुर में सभी आरोपियों के खिलाफ आईटी एक्ट में मुकदमा दर्ज किया गया जिसपर वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक निवेदिता कुकरेती द्वारा मामले की गंभीरता समझते हुए सभी अभियुक्तओं की तुरंत गिरफ़्तारी के निर्देश जारी किये गए जिसपर थानाध्यक्ष सहसपुर नरेश राठौड़ व थाना पुलिस टीम द्वारा वेलकम न्यूज़ चैनल के सम्बन्ध में जानकारी हासिल की गयी। पुलिस ने जाँच के दौरान वेलकम न्यूज़ के राइटर नवीन कुमार(39) पुत्र यशपाल सिंह निवासी मोहल्ला अजीतनगर थाना विकासनगर ;प्रभारी पछवादून रवि कुमार(30)पुत्र महेंद्र कुमार निवासी ग्राम बेरागीवाला थाना सहसपुर ; प्रभारी उत्तराखंड हरीश गर्ग(26)पुत्र अशोक गर्ग निवासी डाकपत्थर थाना विकासनगर;स्टाफ रिपोर्टर अशद(22) पुत्र अफजल निवासी ग्राम सहसपुर थाना सहसपुर को हिरासत मे लिया गया व उनके बताये अनुसार अपने पांचवें साथी शिवम को भी हिरासत में लिया। युवती द्वारा उन पांचो की शिनाख्त कराई गई तो पीड़िता द्वारा उन पांचों का घटने में संलिप्त होना बताया गया जिसपर पुलिस ने पांचों को युवती की अश्लील वीडियो बनाने ,उसे व्हाट्सएप में शेयर करने व उन्हें ब्लैकमेल करने के जुर्म में गिरफ्तार कर लिया। अभियुक्तओं से पुलिस पूछताछ में तथ्य प्रकाश में आया है कि चारों पत्रकार द्वारा अपनी सोची समझी साजिश के तहत अपने पांचवे साथी शुभम को महिला की बहन की दुकान पर ग्राहक बनाकर भेजा गया था व महिला नग्न अवस्था मे होने पर उसको उन चारों को मैसेज करने की बात कही गई थी। चारों शिवम के मेसेज मिलने के बाद वीडियो बनाते हुए अंदर गए और पीड़िता का नग्न अवस्था का वीडियो बनाकर उसको डरा धमकाकर वीडियो को सोशल मीडिया में भेजने का कहकर पैसे और चेक ब्लैकमेल करके ले गए। इनमे से एक अभियुक्त हरीश गर्ग पूर्व में हत्या के अपराध में वर्ष 2015 में हरकेश मर्डर केस में जेल जा चुका है।

journalist arrested 2

Check Also

सीएम धामी ने प्रदेश वासियों को राज्य स्थापना दिवस के अवसर पर दी बधाई एवं शुभकामनाएं

देहरादून (सू0 वि0)। राज्य स्थापना दिवस के अवसर पर मुख्यमंत्री ने प्रदेश वासियों को दी …

Leave a Reply

Your email address will not be published.