Breaking News
22047811 1723015937993648 4287549733888910897 o

हमारे आईटीबीपी के जवानों ने भीषण परिस्थितियों में भी कठिनाइयों और ऊंचाई पर विजय प्राप्त की हैःराजनाथ सिंह

 

आज करेंगे केदारनाथ के दर्शन 

22047811 1723015937993648 4287549733888910897 o

देहरादून (सू0वि0) । मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने बद्रीनाथ पहुॅचकर BRO के विश्रामगृह में केन्द्रीय गृहमंत्री श्री राजनाथ सिंह से मुलाकात की। इसके बाद गृहमंत्री व मुख्यमंत्री ने रिमखिम, जोशीमठ एवं औली में ITBP Camp में जवानों के साथ मुलाकात कर दशहरा एवं दीपावली पर्व की बधाई दी। गृहमंत्री एवं मुख्यमंत्री ने सुनील-जोशीमठ में आईटीबीपी द्वारा आयोजित शस्त्र पूजा कार्यक्रम में भाग लिया तथा निःशुल्क चिकित्सा शिविर व रक्तदान शिविर का निरीक्षण भी किया। गृहमंत्री ने दशहरा पर्व पर रिमखिम, सुनील-जोशीमठ तथा औली में जवानों से मुलाकात कर खुशी जाहिर करते हुए उनकी हौसला अफजाई की। इस अवसर पर केन्द्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह की पत्नी ने आईटीबीपी के जवानों को विजयदशमी के पर्व पर टीका लगाकर बधाई दी। विजयदशमी पर्व के अवसर पर ITBP Camp सुनील-जोशीमठ में आयोजित कार्यक्रम में गृहमंत्री ने शस्त्र पूजा कार्यक्रम में भाग लिया। जवानों को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा हमारे आईटीबीपी के जवानों ने विकट परिस्थितियों में भी कठिनाईयों एवं ऊंचाई पर विजय प्राप्त की है। 1962 से लगातार हमारे आईटीबीपी के जवान देश की सीमाओं की सुरक्षा कर रहे है। उन्होंने कहा कि दुनियां की कोई भी ताकत हिमवीरों को देश की सीमाओं की सुरक्षा करने से रोक नहीं सकती। कहा कि जवानों को स्नो स्कूटर, अच्छी क्वाल्टी की गाड़ियां, गर्म कपड़े व अन्य सुविधाऐं भी उपलब्ध करायी जा रही है। बताया कि सीमा पर तैनात जवानों को अपने परिवार के साथ बात करने के लिए सस्ती दर पर BSNL सुविधा उपलब्ध कराने के प्रयास भी किये जा रहे है। डोकलाम विवाद पर पत्रकारों के सवालों का जबाव देते हुए गृहमंत्री ने बताया कि सकारात्मक सोच के साथ डोकलाम विवाद को सुलझाया गया है। गृहमंत्री ने कहा कि भारत-चीन सीमा पर निवास कर रहे देश के नागरिकों के लिए केन्द्र सरकार हर सम्भव सहायता देने की कोशिश कर रही है। उन्होंने कहा कि सीमांत गांवों से पलायन को रोकने के लिए ठोस प्रयास किये जा रहे है। उन्होंने आईटीबीपी के जवानों को भी सीमा पर रहने वाले नागरिकों को दोस्त बनाकर उनके अन्दर विश्वास जगाने को कहा। गृहमंत्री ने सीमांत क्षेत्रों में Border Area Development Programme (BADP) के तहत संचालित कार्यों की भी सराहना की तथा BADP के तहत दी जाने वाली धनराशि को दोगुना करने की बात कही। कहा कि राज्य के 5 जिलों के 9 ब्लाकों में BADP के तहत कई योजनाओं पर कार्य किया जा रहा है। बताया कि BADP के तहत देश में 27 सड़के स्वीकृत थी जिसमें से 10 सड़के अकेले उत्तराखण्ड राज्य के लिए स्वीकृत की गयी है तथा दूसरे चरण में भी राज्य के लिए अन्य सड़के स्वीकृत की जायेंगी। उन्होंने सड़क निर्माण के कार्यों में तेजी लाने पर भी जोर दिया। गृहमंत्री ने आईटीबीपी के जवानों तथा सीमा पर रह रहे सभी नागरिकों को दशहरा व दीपावली पर्व की बधाई व शुभकामनाऐं दी। उन्होंने जोशीमठ सुनील में आईटीबीपी की प्रथम वाहनी को खाने के लिए 2 लाख की धनराशि भी दी। इसके साथ ही उन्होंने क्षेत्र की महिलाओं को साड़ियां एवं बच्चों को स्कूल बैग व खेल सामग्री भी वितरित किये। आईटीबीपी की प्रथम वाहिनी सुनील, जोशीमठ की ओर से केन्द्रीय गृहमंत्री एवं मुख्यमंत्री को विजयदशमी के अवसर पर प्रतीक चिन्ह एवं शाॅल भेंट किया। इस अवसर मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने राज्य आगमन पर केन्द्रीय गृहमंत्री का प्रदेश की ओर से हार्दिक अभिनंदन एवं स्वागत किया। आईटीबीपी कैम्प में जवानों को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि सीमाओं की सुरक्षा में प्रदेश के शहीद जवानों के आश्रित को राज्य सरकार द्वारा सरकारी नौकरी प्रदान करने का निर्णय लिया गया है। उन्होंने यह भी अवगत कराया कि सीमांत क्षेत्रों के गांवों में आय के साधन बढ़ाने के उपाय किए जा रहे हैं।अच्छी किस्म के अखरोट एवं चिलगोजे के 4 लाख पेड़ लगाये जाने की योजना बनायी गयी है, जिसके तहत देहरादून में नर्सरी विकसित की गयी है तथा 2 सालों में ये सभी पौधे सीमांत क्षेत्रों में नर्सरी से ट्राॅन्सप्लांट किये जायेंगे। इसके साथ ही दो ईको टास्कफोर्स कम्पनी बनाने का फैसला किया गया है जिसमें भूतपूर्व सैनिकों की भर्ती की जाएगी।

Check Also

सीएम धामी ने प्रदेश वासियों को राज्य स्थापना दिवस के अवसर पर दी बधाई एवं शुभकामनाएं

देहरादून (सू0 वि0)। राज्य स्थापना दिवस के अवसर पर मुख्यमंत्री ने प्रदेश वासियों को दी …

Leave a Reply

Your email address will not be published.