Breaking News
di

चमोली में ग्लेशियर टूटने से भारी तबाही, दो पावर प्रोजेक्टों में जान-माल का नुकसान

di

चमोली (केशर सिंह नेगी)। चमोली जिले की नीति घाटी के तपोवन क्षेत्र में रविवार सुबह लगभग 10 बजे के आसपास ग्लेशियर टूटने से त्रषिगंगा नदी पर बाढ आ गई। जिसमे त्रषिगंगा पावर प्रोजेक्ट तथा तपोवन पावर प्रोजेक्ट बह जाने से जानमाल सहित तपोवन क्षेत्र मे परिसंपत्तियों को भारी नुकसान हुआ है।

सूचना मिलने पर जिला प्रशासन ने तत्काल जिले के नदी तट के इलाकों में अलर्ट जारी किया गया। जिला प्रशासन की ओर से नदी तट क्षेत्र के इलाकों को खाली करवाया गया और मौके पर जिला प्रशासन, पुलिस, एसडीआरएफ, आईटीबीपी, आर्मी सहित स्थानीय लोगों की मदद से रेस्क्यू अभियान शुरू किया गया।

रैणी के निकट नीति घाटी को जोडने वाला सड़क पुल बह गया है। जिससे लगभग 7 -8 गांवो का संपर्क टूट गया है। जिसमें गहर, भंग्यूल, रैणी पल्ली, पैंग, लाता, सुराईथोटा, तोलमा, फगरासु आदि गांव शामिल है

रैणी मे जुगजू का झूला पुल, जुवाग्वाड-सतधार झूलापुल, भग्यूल-तपोवन झूलापुल तथा पैंग मुरण्डा पुल बह गया है। रैणी मे शिवजी व जुगजू मे मां भगवती मंदिर भी आपदा मे बह गए है।

बताया जा रहा है कि जब यह बाढ आई उस समय ऋषि गंगा पावर प्रोजेक्ट मे 35 से 40 लोग काम कर रहे थे। जबकि तपोवन पावर प्रोजेक्ट में 178 वर्कर है। रविवार को 116 लोग तपोवन मे काम कर रहे थे। खबर लिखे जाने तक 12 लोगो को सही सलामत रेस्कयू किया गया है। जबकि अभी तक 8 डेडबॉडी भी रिकवर हुई है। रेस्कयू आपरेशन जारी है। वही लगभग 154 लोग लापता बताए जा रहे है।

मुख्यमंत्री श्री त्रिवेंद्र सिह रावत ने रैणी और तपोवन मे आपदा प्रभावित क्षेत्र का स्थलीय निरीक्षण किया। उन्होंने टनल मे फसे लोगों को बचाने के लिए रेस्कयू आपरेशन मे तेजी लाने को कहा। वही रैणी मे आपदा प्रभावित क्षेत्र का निरीक्षण करते हुए कहा कि हमारी कोशिश रहेगी जो लोग सडक संपर्क टूटने से फंस गए है उन तक जल्द से जल्द मदद पहुंचायी जाएगी।

मुख्यमंत्री ने प्रभावितों को चार-चार लाख का मुआवजा देने की बात कही। मुख्यमंत्री जी ने कहा कि हर जरूरत की पूर्ति करने की पूरी व्यवस्था हमारे पास है। हमारे पास रेस्क्यू टीम, मेडिकल, हेलीकाॅप्टर, एक्सपर्ट पर्याप्त मात्रा में है। सरकार का पूरा ध्यान जिनका जीवन बचा सकते हैं, उनकी ओर है। इस दौरान जिलाधिकारी स्वाति एस भदौरिया, एसपी यशवंत सिंह चौहान भी मौके पर मौजूद थे। देर सांय डीजीपी अशोक कुमार ने भी आपदा प्रभावित क्षेत्र तपोवन का निरीक्षण किया।

जिलाधिकारी स्वाति एस भदौरिया ने के मार्ग निर्देशन पर घटना स्थल पर रेस्कयू आपरेशन जारी है। यहां पाकलैंड मशीन, एक्सावेटर व जेसीबी मशीन लगाकर टनल से मलवा हटाने का काम जारी है। वही जिलाधिकारी ने संपर्क मार्ग टूटने के कारण फंसे लोगो तक शीघ्र रसद एवं जरूरी सामान पहुंचाने हेतु व्यवस्था करा दी है। जिला प्रशासन द्वारा मौके पर सभी जरूरी व्यवस्थाओ के साथ फूड पैकेट, पानी आदि पूरी व्यवस्था की गई है। जिला प्रशासन की पूरी टीम मौके पर मौजूद है।

di 1

https://fb.watch/3vJzjFijPC/

 

Check Also

हमारा देश विभिन्न सम्प्रदायों, भाषाओं, जातियों एवं संस्कृतियों से परिपूर्ण राष्ट्र: धामी

देहरादून (सू0 वि0)। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने कहा कि हमारा देश विभिन्न सम्प्रदायों, भाषाओं, …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *