Breaking News
smack

280 ग्राम स्मैक व अवैध तमंचे के साथ पाँच शातिर गिरफ्तार

      अर्जुन सिंह भण्डारी
(क्राइम ब्योरो चीफ -उत्तराखण्ड)

देहरादून: पुलिस ने प्रदेश में बढ़ते नशे के कारोबार पर नकेल कसने में एक और सफलता हासिल की है । वसंत विहार व प्रेमनगर थाने की संयुक्त टीम ने एसओजी के साथ मिलकर झाझरा के समीप एक कुख्यात आरोपी सहित पाँच अभियुक्तों को स्मैक व अवैध तमंचे के साथ गिरफ्तार किया। यह आरोपी अन्तर्राजीय गिरोह के तौर पर सक्रिय थे व मुख्यत कॉलेज व स्कूली छात्रों को नशा बेचते थे। देहरादून में विगत कुछ महीनो से नशे के बढ़ते कारोबार ने पुलिस की नाक में दम कर रखा है। आये दिन ही पुलिस दून में बाहर से आने वाली नशे की खेप को पकड़ रही है। इसी क्रम में पुलिस को कई बार विभिन्न शिक्षण संस्थानों व मैनेजमेंट संस्थानों से कुछ अपराधिक तत्वों द्वारा उनके छात्रों को नशा बेचने की शिकायतें आ रही थी। इन शिकायतों को ध्यान में रखते हुए वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक निवेदिता कुकरेती के आदेशानुसार पुलिस अधीक्षक नगर, सहायक पुलिस अधीक्षक व क्षेत्राधिकारी के निर्देशन में टीम गठित की गयी। थानाध्यक्ष प्रेमनगर मुकेश त्यागी व थानाध्यक्ष वसंत विहार संजय मिश्रा द्वारा संचालित पुलिस टीम को मुखबिरों व सर्विलान्स के जरिये सूचना प्राप्त हुई की बरेली से एक अन्तर्राजीय गिरोह नशे का सामान देहरादून में सप्लाई करने की फ़िराक में है जो फ़िलहाल सेलाकुई में माल सप्लाई करने के बाद प्रेमनगर की ओर से देहरादून में आ रहे है। इस बाबत ए एस पी सदर लोकेश्वर सिंह, प्रेमनगर व वसंत विहार थानाध्यक्षों के साथ झाझरा चौकी पहुचे व सभी गाड़ियों की चेकिंग प्रारम्भ कर दी। चेकिंग के दौरान पुलिस को एक धूलकोट की तरफ से एक सफ़ेद गाड़ी आती हुई दिखाई दी जिसे पुलिस द्वारा रुकने का इशारा किया गया तो उन्होंने गाड़ी भगा दी। परंतु पुलिस ने मुस्तैदी से उन्हें पकड़ लिया। पुलिस ने मौके से पाँच अभियुक्तों को गिरफ्तार किया है जिनमें शेरदिल खान पुत्र शेर अली खान निवासी थाना फतेहगंज बरेली यूपी,अजीत पुत्र वीर सिंह निवासी रायपुर रोड सर्वे चौक, पुष्पेन्द्र पुत्र जयप्रकाश शर्मा निवासी करनपुर, शाहिद पुत्र मुस्ताक निवासी थाना फतेहगंज बरेली,यूपी व रजत जैसवाल पुत्र राकेश जैसवाल निवासी करनपुर के पास से 280 ग्राम स्मैक, 1,20,000 रूपये नगद व एक अवैध तमंचा बरामद हुआ। पुलिस पूछताछ में देहरादून निवासी अभियुक्त अजीत व पुष्पेन्द्र ने बताया कि नशे में अच्छे पैसे होने के चलते उन्होंने बरेली निवासी शेरदिल खान व शाहिद से देहरादून में स्मैक सप्लाई करने की डील की। इन्ही से हम बरेली से स्मैक सप्लाई कर देहरादून के स्कूल कॉलेजों व इंडस्ट्रियल एरिया में बेचते थे जिससे हमें अच्छा-खासामुनाफा होता था। पुलिस ने मौके से तस्करी में प्रयुक्त कार को भी जब्त कर लिया हैं और पाँचों अभियुक्तों को गिरफ्तार कर लिया है।

smack

हाई प्रोफाइल तरीके से करते थे स्मैक सप्लाई
छात्रों के बीच सोशल मीडिया के बढ़ते प्रभाव के चलते अभियुक्तों ने भी व्हाट्सएप्प, फेसबुक व इंटरनेट को बुकिंग का माध्यम बना डाला। अभियुक्त अजीत ग्राहकों से सोशल मीडिया से बुकिंग प्राप्त करता था फिर बाकि अभियुक्त ग्राहकों की बुकिंग के हिसाब से माल को पर्ची व पैकेटों में सप्लाई करते थे। देहरादून निवासी अजीत व पुष्पेन्द्र मॉल को बाटने का रूट बनाते थे फिर अपना एजेंट को स्कूटी से पूरी रोड की रैकी करवाते थ्व और रूट क्लियर होने पर ही उनका दूसरा व्यक्ति माल की डिलीवरी करते थे।

Check Also

सीएम धामी ने प्रदेश वासियों को राज्य स्थापना दिवस के अवसर पर दी बधाई एवं शुभकामनाएं

देहरादून (सू0 वि0)। राज्य स्थापना दिवस के अवसर पर मुख्यमंत्री ने प्रदेश वासियों को दी …

Leave a Reply

Your email address will not be published.