Breaking News
bharat band 8 dec

किसानों का भारत बंद आज

– किसानों के समर्थन में विपक्ष लामबंद,

– व्यापारी और ट्रांसपोर्टर ‘भारत बंद में शामिल नहीं

bharat band 8 dec

नई दिल्ली । केंद्र सरकार द्वारा लाए गए तीन कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों का आंदोलन 12वें दिन में प्रवेश कर गया। वहीं पूरा विपक्ष लामबंद होकर किसानों के आंदोलन के समर्थन कर रहा है और कल आठ दिसंबर के भारत बंद के ऐलान का समर्थन करने के लिए दस ट्रेड यूनियन भी समर्थन में आ गई हैं, लेकिन देश व्यापी बंद में कुछ आवश्यक सेवाओं को छूट देने का भी ऐलान किया गया है। वहीं कनफेडेशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स (कैट) और ऑल इंडिया ट्रांसपोर्टस वेलफेयर एसोसिएशन ने ऐलान किया है कि वे इस भारत बंद में शामिल नहीं होंगे और देशभर के बाजार व ट्रांसपोर्ट खुले रहेंगे। उधर भारत बंद को देखते हुए केंद्र और राज्य सरकार ने सुरक्षा व्यवस्था के पुख्ता इंतजाम किये हैं।
केंद्र सरकार और किसान संगठनों में कई दौर की वार्ताएं हो चुकी है, लेकिन उनका अभी तक कोई नतीजा नहीं निकल सका है। केंद्र सरकार पर नए कृषि कानूनों को वापस लेने के लिए दबाब बनाने के प्रयास में किसानों ने मंगलवार आठ दिसंबर को भारत बंद का ऐलान किया है। इस ऐलान के तहत हरियाणा-पंजाब के अलावा उत्तर प्रदेश, दिल्ली, ओडिशा, उत्तराखंड, पश्चिम बंगाल, मध्यप्रदेश, राजस्थान व तमिलनाडु के किसानों ने भी बंद का समर्थन किया है। वहीं कांग्रेस समेत किसानों के समर्थन में लामबंद हो रहे हैं, तो भारत बंद को समर्थन देने के लिए 10 ट्रेड यूनियन भी सामने आ गई हैं। दिल्ली में कुछ ऑटो और टैक्सी यूनियनों ने किसानों के भारत बंद को समर्थन दिया है। इस कारण शहर में यात्रियों को परेशानी का सामना करना पड़ सकता है। हालांकि कई अन्य संघों ने किसानों के आंदोलन को अपना समर्थन देने के बावजूद सेवाएं सामान्य तौर पर जारी रखने का निर्णय लिया है।
दिल्ली सीमा पर डटे आंदोलन किसानों ने ऐलान किया कि यह बंद चक्का जाम के साथ सुबह 11 बजे से 3 बजे तक रहेगा, लेकिन बंद से आवश्यक सेवाओं को छूट दी गई है। भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत ने कहा है कि 11 बजे से लेकर तीन बजे के बीच तीन राज्यों हरियाणा, पंजाब और राजस्थान में सभी मंडियां बंद रहेंगी। भाकियू प्रवक्ता राजेश टिकैत ने कहा कि हमारा विरोध शांतिपूर्ण है और हम इस तरह ही इसे जारी रखेंगे। उन्होंने कहा कि हम आम आदमी के लिए समस्याएं पैदा नहीं करना चाहते। इसलिए हम सुबह 11 बजे बंद शुरू करेंगे, ताकि वे समय पर कार्यालय के लिए निकल सकें। कार्यालयों में काम के घंटे दोपहर 3 बजे तक समाप्त हो जाएंगे। इस बंद के दौरान यातायात सेवाएं प्रभावित हो सकती हैं। बस और रेल से यात्रा करने वाले यात्रियों को परेशानी हो सकती है। इसी प्रकार आवश्यक चीजों जैसे दूध, फल और सब्जी पर रोक रहेगी। जबकि एंबुलेंस और आपातकालीन सेवाएं जारी रहेंगी। मेडिकल स्टोर खोले जा सकते हैं और अस्पताल सामान्य दिनों की तरह खुले रहेंगे। वहीं शादियों पर कोई पाबंदी नहीं रहेगी।
भारत बंद को टीएमसी का साथ नहीं : राय
टीएमसी सांसद सौगत राय ने कहा कि तृणमूल कांग्रेस किसानों के आंदोलन के साथ खड़ी है, मगर हम उनके भारत बंद को बंगाल में समर्थन नहीं देगें। यह भारत बंद हमारे सिद्धांत के खिलाफ है।
0

Check Also

1

1

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *