Breaking News
dilip ias 566765

ऐतिहासिक कलैक्ट्रेट मल्ला महल के पुर्ननिर्माण कार्यों की समीक्षा

dilip ias 566765

अल्मोड़ा (संवाददाता)। सचिव पर्यटन दिलीप जावलकर ने आज वीसी के माध्यम से जनपद में ऐतिहासिक कलैक्ट्रेट (मल्ला महल) के पुर्ननिर्माण कार्यों व 13 डिस्ट्रिीक 13 डेस्टीनेशन के अन्तर्गत किये जा रहे कार्यों की समीक्षा की। उन्होंने कहा कि कलैक्ट्रेट को हेरिटेज स्थल के रूप में विकसित किया जाना है इस हेतु पर्यटन विकास परिषद द्वारा पूर्व में ही रूप रेखा तैयार कर ली गयी है। उन्होंने जिलाधिकारी को निर्देशित किया कि गये जा रहे कार्यों की स्वयं मॉनिटरिंग व कार्यों में तेजी लायी जाय। उन्होंने कहा कि सितम्बर माह के अन्त तक कलैक्ट्रेट का स्थानान्तरित की प्रक्रिया शुरू हो जानी चाहिये।
सचिव ने कहा कि कार्य करने हेतु स्थान की उपलब्धता सुनिश्चित किये जाने के लिये प्रारम्भ में किसी भवन से सामान खाली कर दिया जाये जिससे कार्य प्रारम्भ किया जा सके। उन्होंने कहा कि इस कार्य में स्थानीय जानकारो की मद््द ली जाये। सचिव ने इस दौरान 13 डिस्ट्रिीक 13 डेस्टीनेशन के अन्र्तगत किये जा रहे कार्यों की समीक्षा करते हुये आवश्यक दिशा निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि जल्द से जल्द डीपीआर तैयार करते हुये प्रस्ताव शासन को प्रेषित कर दी जाये।
इस अवसर पर जिलाधिकारी नितिन सिंह भदौरिया ने बताया कि वर्तमान में रामशिला मंदिर में पुर्ननिर्माण कार्य प्रारम्भ कर दिया गया है इसके अलावा जल्द ही रानीमहल व रिकार्ड रूम को खाली करते हुये में कार्य प्रारम्भ कर दिये जायेंगे। जिलाधिकारी ने बताया कि नवीन कलैक्ट्रेट में भी कार्य तेजी से चल रहा है। रिकार्ड रूम बनकर तैयार हो चुका है इसके बाद स्थानान्तरण की कार्यवाही की जायेगी। इस दौरान जिलाधिकारी ने कलैक्ट्रेट परिसर में किये जाने वाले कार्यों की जानकारी दी। वीसी में उपस्थित पर्यटन विकास अधिकारी राहुल चौबे ने पीपीटी के माध्यम से13 डिस्ट्रिीक 13 डेस्टीनेशन में किये जा रहे कार्यों की जानकारी दी। वीसी में आपदा प्रबन्धन अधिकारी राकेश जोशी, समिति के सदस्य मुक्तिदत्ता, जयमित्र बिष्ट, पर्यटन विकास परिषद की आर्किटेट स्वाति राय, शीला तिवारी उपस्थित थे।
///

Check Also

सरकार का उद्देश्य राज्य में पर्यटन सुविधाओं का अधिकतम विकास करना है -दिलीप जावलकर

सचिव पर्यटन, उत्तराखंड शासन, दिलीप जावलकर द्वारा श्री केदारनाथ धाम के पुनर्विकास कार्यों को गति …

Leave a Reply

Your email address will not be published.