Breaking News
t

ना पुलिस का डर, ना लोगों की फब्तियां…अकेले में समय बिताने यहां जाएं मोहब्‍बत के दीवाने (3)

आप अपने साथी के साथ कुछ वक्त गुजारना चाहते हैं मगर यह समझ नहीं पा रहे हैं कि कहां जाएं। कौन सी
जगह का चुनाव करें जहां सुकून के कुछ पल बिता सकें, साथ ही वह निजी पल सुरक्षित भी हों। तो अब आपको ज्यादा सोचने की जरूरत नहीं। ऐसी मुश्किलों को सुलझाने के लिए भी कुछ स्टार्टअप आ गए हैं। ऐसे स्टार्टअप, जो एकाकी लम्हे गुजारने के लिए स्थान उपलब्ध करा रहे हैं।

संशय से निकला समाधान
दरअसल, हिंदुस्तानी समाज में अविवाहित जोड़ों को तमाम तरह की मुसीबतों का सामना करना पड़ता है। कभी प्यार के लिए उन्हें समाज से लड़ना पड़ता है, तो कभी एकांत की तलाश में भटकना पड़ता है। इसकी खोज में वे सिनेमाघर, पार्क, मॉल्स, समंदर के किनारे आदि पहुंचते हैं लेकिन सामाजिक भय और सुरक्षा का खतरा इतना ज्यादा होता है कि यहां भी चंद पल बिताना आसान नहीं होता। इसी संशय को समझते हुए एक स्टार्टअप कंपनी ‘स्टे अंकल’ ने अविवाहित जोड़ों के लिए होटल में कमरे बुक करने की सुविधा शुरू की है। इसके लिए कंपनी ने होटलों के साथ अनुबंध किया है। वेबसाइट पर लॉगइन करके इससे जुड़े किसी भी होटल में कुछ घंटों के लिए कमरा बुक किया जा सकता है। इसके लिए जोड़ों को सिर्फ पहचान पत्र दिखाने होंगे।

इश्क है कोई गुनाह नहीं
अमूमन जब भी प्रेमी-प्रेमिका किसी सार्वजनिक जगह पर मिलते-जुलते हैं, तो वहां मौजूद लोग उन्हें ऐसी नजरों से देखते (या कहें कि घूरते) हैं कि न चाहते हुए भी लड़के-लड़कियों की नजरें झुक जाती हैं। वे मन मसोसकर लोगों से छिपने-छिपाने का प्रयास करते हैं या फिर परेशान होकर वहां से चले जाते हैं। अगर कुछ जोड़े हिम्मत जुटाकर
वहां बैठे भी रहें तो आस-पास गुजरने वालों की निगाहें, ताने और फब्तियां ऐसी होती हैं, जो उनकी रूह तक हिला
देती हैं। स्टे अंकल के सीईओ संचित सेठी कहते हैं, ‘इस तरह के व्यवहार से प्रेमी जोड़ों को यह अहसास होने लगता है मानो वे प्रेम नहीं, कोई अपराध कर रहे हैं।’

Check Also

सरकार का उद्देश्य राज्य में पर्यटन सुविधाओं का अधिकतम विकास करना है -दिलीप जावलकर

सचिव पर्यटन, उत्तराखंड शासन, दिलीप जावलकर द्वारा श्री केदारनाथ धाम के पुनर्विकास कार्यों को गति …

Leave a Reply

Your email address will not be published.