Breaking News

फ्लाइंग सिख के निधन पर पूरे देश में शोक की लहर, आज चंडीगढ़ में होगा अंतिम संस्कार

नई दिल्ली। भारत के महान फर्राटा धावक ‘फ्लाइंग सिख मिल्खा सिंह का एक महीने तक कोरोना संक्रमण से जूझने के बाद निधन हो गया। बीती रात इसकी जानकारी दी। 91 वर्षीय सिंह की बीती शाम को कोविड-19 के बाद उत्पन्न हुई जटिलताओं के कारण हालत गंभीर हो गई थी जिसमें उनका आक्सीजन स्तर कम हो गया था और उन्हें तेज बुखार आ रहा था। रविवार को ही उनकी पत्नी और भारतीय वॉलीबॉल टीम की पूर्व कप्तान निर्मल कौर ने भी कोरोना संक्रमण के कारण दम तोड़ दिया था। पद्मश्री मिल्खा सिंह 91 वर्ष के थे। उनके परिवार में उनके बेटे गोल्फर जीव मिल्खा सिंह और तीन बेटियां हैं। रात साढ़े 11 बजे आखिरी सांस ली। उनकी हालत शाम से ही खराब थी और बुखार के साथ आक्सीजन भी कम हो गई थी। वह यहां पीजीआईएमईआर के आईसीयू में भर्ती थे। उन्हें पिछले महीने कोरोना हुआ था और बुधवार को उनकी रिपोर्ट नेगेटिव आई थी। उन्हें जनरल आईसीयू में शिफ्ट कर दिया गया था। गुरूवार की शाम से पहले उनकी हालत स्थिर हो गई थी। मिल्खा सिंह का पार्थिव शरीर उनके आवास चंडीगढ़ के सेक्टर 8 के मकान नंबर 725 पर लाया जा चुका है। उनके बेटे भारतीय गोल्फर जीव मिल्खा सिंह समेत परिवार के सारे लोग मौजूद घर में ही मौजूद हैं। मिल्खा सिंह के पार्थिव शरी को दोपहर 3 बजे अंतिम दर्शन के लिए रखा जाएगा, जबकि शाम 5 बजे उनका अंतिम संस्कार सेक्टर 25 के श्मशान घाट में किया जाएगा। ‘फ्लाइंग सिखÓ के निधन पर देशभर में शोक की लहर है।
राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने कहा है कि उनका दिल मिल्खा सिंह के निधन की खबर सुन कर दुख से भर गया है। उनका कहना है कि मिल्खा सिंह के जीवन के संघर्ष और चरित्र की ताकत की कहानी भारतीयों की पीढिय़ों को प्रेरित करती रहेगी। इसके साथ ही उन्होंने मिल्खा सिंह के परिवार के सदस्यों और फैंस के प्रति गहरी संवेदना व्यक्त की है।
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भारत के महान धावक मिल्खा सिंह के निधन पर शोक जताते हुए कहा कि भारत ने ऐसा महान खिलाड़ी खो दिया जिनके जीवन से उदीयमान खिलाडिय़ों को प्रेरणा मिलती रहेगी। गृह मंत्री ने भी दी श्रद्धांजलिवहीं केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने लिखा कि कि भारत महान धावक मिल्खा सिंह जी, द फ्लाइंग सिख के दुखद निधन पर शोक व्यक्त करता है। उन्होंने विश्व एथलेटिक्स पर एक अमिट छाप छोड़ी है। राष्ट्र उन्हें हमेशा भारतीय खेलों के सबसे चमकीले सितारों में से एक के रूप में याद रखेगा। उनके परिवार और अनगिनत समर्थकों के प्रति मेरी गहरी संवेदना है।
पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने भी मिल्खा सिंह के निधन पर शोक जताते हुए कहा है कि यह एक युग के समाप्त हो जाने जैसा है। शोक संतप्त परिवार और लाखों प्रशंसकों के प्रति मेरी संवेदनाएं। फ्लाइंग सिख की कहानी आने वाली पीढिय़ों के लिए गूंजेगी. विनम्र श्रद्धांजलि।
केंद्रीय खेल मंत्री किरण रिजिजू ने भी दुख जताया। उन्होंने कहा कि मैं आपसे वादा करता हूँ मिल्खा सिंह जी कि हम आपकी अंतिम इच्छा को पूरा करेंगे।
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भी उनके निधन पर ट्वीट किया है। उन्होंने कहा, सुविख्यात धावक, ‘पद्मश्रीÓ से सम्मानित ‘फ्लाइंग सिख मिल्खा सिंह जी का निधन खेल जगत की अपूरणीय क्षति है। उनका जीवन राष्ट्र के लिए अप्रतिम प्रेरणा है.प्रभु श्री राम दिवंगत पुण्यात्मा को अपने परम धाम में स्थान व शोकाकुल परिजनों को यह दु:ख सहने की शक्ति प्रदान करें.? शांति।

Check Also

सीएम धामी ने प्रदेश वासियों को राज्य स्थापना दिवस के अवसर पर दी बधाई एवं शुभकामनाएं

देहरादून (सू0 वि0)। राज्य स्थापना दिवस के अवसर पर मुख्यमंत्री ने प्रदेश वासियों को दी …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *