Breaking News
governor program

बच्चों को संस्कारवान बनाने में अभिभावकों के साथ ही शिक्षकों की भी महत्वपूर्ण भूमिका : राज्यपाल

governor program

देहरादून (सू0वि0) । राज्यपाल डाॅ० कृष्ण कांत पाल ने कहा कि बच्चों को संस्कारवान बनाने में अभिभावकों के साथ ही शिक्षकों की भी महत्वपूर्ण भूमिका है। बच्चों को नैतिक मूल्यों, भारतीय संस्कृति के बारे में बताने के साथ ही उनमें महिलाओं के प्रति सम्मान की भावना भी विकसित की जाए। रविवार को राज्यपाल ने रूड़की के तांशीपुर स्थित सोनी फांउडेशन ट्रस्ट द्वारा संचालित भारतीय अकादमी विद्यालय में मल्टी परपज हाॅल का शिलान्यास किया। राज्यपाल ने कहा कि बच्चे, हमारे देश का भविष्य हैं। बच्चों को शिक्षित करने व समाज कोअच्छे नागरिक देने के लिए ट्रस्ट द्वारा किए जा रहे प्रयास प्रशंसनीय है। जिस उद्देश्य के लिए विद्यालय चलाया जा रहा है, उसमें विद्यालय के शिक्षकों की भूमिका बहुत महत्वपूर्ण है। शिक्षकों का दायित्व है कि छात्रों को स्कूली किताबें पढ़ाने के साथ ही नैतिक मूल्यों, हमारी संस्कृति व सभ्यता का ज्ञान करायें। बच्चों में छोटी उम्र से ही महिलाओं के प्रति सम्मान और शिष्टाचार की भावना को मजूबती से रोपित करें ताकि आगे चलकर हमारे समाज में महिलाओं के प्रति होने वाले अमानवीय व्यवहार को जड़ से समाप्त किया जा सके। राज्यपाल ने छात्रों से कहा कि अपने पाठ्यक्रम की पुस्तकों के साथ ही अन्य अच्छी किताबें भी पढ़ने की आदत बनाएं। अच्छी पुस्तकों के अध्ययन से अच्छे व्यक्तित्व और चरित्र का निर्माण होता है। सभी का सम्मान करना सीखें। राज्यपाल ने रूड़की के तांशीपुर स्थित सोनी फांउडेशन ट्रस्ट द्वारा संचालित भारतीय अकादमी विद्यालय में मल्टीपरपज हाॅल का शिलान्यास किया। गांव व कमजोर वर्ग के बच्चों को शिक्षा प्रदान किये जाने के लिए 1991 में ट्रस्ट की स्थापना की गयी थी। वर्तमान में श्रीमती शांति दूबे, रिटायर जस्टिस जे०सी० वर्मा सहित अन्य सदस्यों की देखरेख में विद्यालय संचालित किया जा रहा है।


Check Also

भगवान भोलेनाथ की पावन धरा पर आने वाले पर्यटक, श्रद्धालु बन कर आयें : मुख्यमंत्री

देहरादून (सू0वि0) ।  भगवान भोलेनाथ की पावन धरा पर आने वाले पर्यटक, श्रद्धालु बन कर …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *