Breaking News
contractor and police

ठेकेदारों ने किया सीएम आवास कूच

contractor and police

देहरादून । प्रदेश सरकार की जनविरोधी नीतियों के खिलाफ ठेकेदारो द्वारा राजधानी देहरादून में जुलूस निकालकर मुख्यमंत्री आवास कूच किया गया, पुलिस ने प्रदर्शनकारियों को एस्लेहॉल चौक पर रोक दिया। रोके जाने पर प्रदर्शनकारी ठेकेदारों ने वहीं पर सरकार के खिलाफ नारेबाजी करते हुए धरना दिया और जाम लगाया। स्थिति को नियंत्रित करने के लिए पुलिस ने लाठियां भी फटकारी। बाद में पुलिस ने प्रदर्शनकारी ठेकेदारों को गिरफ्तार कर वहां से हटाया। ठेकेदार समिति का कहना है कि छोटे ठेकेदार भूखे मरने के कगार की ओर आ गए हैं। उनका कहना है कि शीइा्र ही उनकी समस्याओं का समााान नहीं किया गया तो उग्र आंदोलन किया जायेगा। ठेकेदार कल्याण समिति के अध्यक्ष गोविन्द सिंह पुंडीर के नेतृत्व में प्रदेश भर के ठेकेदार परेड ग्राउंड में इकटठा हुए और वहां पर उन्होंने प्रदेश सरकार की जन विरोधी नीतियों के खिलाफ जुलूस निकालकर प्रदर्शन किया। कांग्रेस के केदारनाथ विाायक मनोज रावत, प्रदेश उपाध्यक्ष सूर्यकांत ास्माना, जोत सिंह बिष्ट, पूर्व विधायक राजकुमार, प्रभुलाल बहुगुणा, लालचन्द शर्मा, प्रकाश नेगी सहित अनेक पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं ने ठेकेदारों को अपना समर्थन दिया, पूर्व विधायक ओम गोपाल रावत ने भी समर्थकों सहित अपना समर्थन दिया। उनका कहना था कि 4 अगस्त 2017 में आंदोलन किया था और 9 अगस्त को सरकार ने हमारी मांगों को जायज मानते हुए समर्थन किया था जिसमें मुख्यमंत्री की तरफ से काबीना मंत्री डा$ हरक सिंह रावत, विधायक मुन्ना सिंह चौहान, वित्त सचिव अमित नेगी के साथ प्रमुख आभियन्ता के मध्य 10 बिंदुओं पर सहमति जताई गई थी। इस सहमति के बाद भी किसी भी प्रकार की कोई कार्यवाही नहीं की गई है और आज छोटे ठेकेदारों को भूखमरी के कगार पर लाकर खड़ा कर दिया है। इस सहमति में जिनमें पांच करोड़ तक के कार्यो में छोटे छोटे टेंडर लगाने, ई टेंडरिंग एवं पंजीकरण को पूर्व की भांति लगाने,सेज लागू होने से पूर्व के अनुबनों में सेज ना कतई जाए, सभी विभागों में लंबित भुगतान तुरन्त की दरें बढ़ाई जाए,समय वृद्घि,एक्स्ट्रा आइटम तथा वेरिएशन पूर्व जीबीडब्ल्यू 9 के अनुसार हो, अफलाइन भुगतान के समय का जमानती राशि का करोड़ों रूपये वापस हो, सिंचाई विभाग का 2013-2014 का लम्बित भुगतान तुरन्त करने सहित अन्य माँगे हैं। सरकार से समय समय पर लगातार मिलते रहने के बावजूद इस मामले को टाला जा रहा है। जिससे ठेकेदारो में रोष बढ़ता जा रहा है। जल्दी ही उग्र आंदोलन की शुरुआत की जा रही है। इस अवसर पर सभा के बाद ठेकेदारों ने मुख्यमंत्री आवास कूच करने का निर्णय लिया और प्रदेश सरकार के खिलाफ नारेबाजी करते हुए एस्ले हॉल चौक पहुंचे जहां पर फिर से प्रदर्शन करते हुए सभा की और आगे बढे और पुलिस ने बैरीकैडिंग लगाकर सभी को रोक लिया और सभी ठेकेदार वहीं धरने पर बैठ गये। बाद में पुलिस ने सभी को गिरफ्तार कर पुलिस लाईन ले गई। वहीं प्रशासनिक अधिकारी के जरिये मुख्यमंत्री को ज्ञापन प्रेषित करते हुए उचित कार्यवाही किये जाने की मांग की गई। प्रदर्शन में समिति के महासचिव राजेन्द्र सिंह कुंवर, हरिद्वार अध्यक्ष ार्मपाल, टिहरी के डिबेश रमोला, नैनीताल के राजेन्द्र मेहरा, हल्द्वानी के राजेन्द्र नेगी, अल्मोड़ा के कुंदन सिंह बिष्ट, ऋषिकेश के नरेंद्र सिंह रावत, सुरेश पुंडीर,अरुण वालिया, अनुराग गुन्ता, नैन सिंह पंवार,गजेंद्र सिंह, गौरव गुलेरिया, अजित रय, कमल पंवार, सापेक्ष शर्मा आदि ठेकेदार मौजूद थे।

Check Also

मुख्यमंत्री धामी ने प्रदेशवासियों को रक्षाबन्धन की दी बधाई

देहरादून (सू0वि0)। मुख्यमंत्री ने दी प्रदेशवासियों को रक्षा बन्धन की शुभकामना। मुख्यमंत्री आवास में बड़ी …

Leave a Reply

Your email address will not be published.