Breaking News

उत्तराखंड में कोरोना के 5606 नए मामले ,71 कोरोना संक्रमितों की मौत

देहरादून । उत्तराखंड में कोरेाना का संक्रमण लगातार बढ़ता जा रहा है। रविवार को राज्य में 5606 नए मामले आए जबकि 71 कोरोना संक्रमितों की मौत हुई। सबसे ज्यादा 2580 मामले देहरादून, 628 हरिद्वार और 567 ऊधम सिंह नगर से आए। वहीं अबतक कुल 191620 मामले आ चुके है, इनमें से 131144 स्वस्थ हुए जबकि विभिन्न अस्पतालों में भर्ती 2802 की मौत हुई। रुड़की में गंगनहर कोतवाली प्रभारी निरीक्षक मनोज मैनवाल कोरोना पॉजिटिव निकले हैं। रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद प्रभारी निरीक्षक ने खुद को आइसोलेट कर लिया है। साथ ही उनके संपर्क में आने वाले अन्य पुलिसकर्मियों को भी चरंटाइन किया गया है। बताया गया कि शनिवार की देर शाम सिविल लाइंस कोतवाली में डीजी की वीडियो कांफ्रेंसिंग में भी वह शामिल हुए थे।
कोरोना वायरस के संक्रमण से अब सीमांत क्षेत्र की त्यूणी तहसील भी अछूती नहीं रही। संक्रमण के छिटपुट मामलों के बाद अब एक ही परिवार के पांच सदस्यों के कोरोना संक्रमित पाए जाने के बाद त्यूणी क्षेत्र के ग्राम बौराड़ (कूणा) में कंटेनमेंट जोन बनाया गया है। जिले में कंटेनमेंट जोन की संख्या बढ़कर अब 54 हो गई। जिलाधिकारी डॉ. आशीष श्रीवास्तव के आदेश के मुताबिक, बौराड़ में उस हिस्से को कंटेनमेंट जोन बनाया गया है, जिसके पूर्व में अजब सिंह पंवार का घर, पश्चिम में मार्ग, उत्तर में रणवीर सिंह का घर व दक्षिण दिशा में दलजीत सिंह का घर है। अग्रिम आदेश तक कंटेनमेंट जोन से कोई भी व्यक्ति बाहरी क्षेत्र में प्रवेश नहीं कर पाएगा। जरूरत की वस्तुओं की आपूर्ति प्रशासन सुनिश्चित कराएगा।
त्यूणी तहसील के मुताबिक बौराड़ में कंटेनमेंट जोन बनाए गए घर में किसी सदस्य के राज्य के बाहर से आने की पुष्टि हुई है। लिहाजा, संक्रमण संबंधित सदस्य के माध्यम से परिवार के अन्य सदस्यों में भी फैल गया। कोरोना की दूसरी लहर में यह पहला मामला है, जब सीमांत क्षेत्र में संक्रमण के चलते कंटेनमेंट जोन बनाया गया है। दूरस्थ के ग्रामीण क्षेत्रों में संक्रमण का पांव पसारना इसलिए भी खतरनाक है, क्योंकि यहां स्वास्थ्य सुविधाएं उतनी बेहतर नहीं हैं।

Check Also

सीएम धामी ने प्रदेश वासियों को राज्य स्थापना दिवस के अवसर पर दी बधाई एवं शुभकामनाएं

देहरादून (सू0 वि0)। राज्य स्थापना दिवस के अवसर पर मुख्यमंत्री ने प्रदेश वासियों को दी …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *